Friday , 18 September 2020
Home - षड्यंत्र - पूर्व अधिकारी का खुलासा साध्वी प्रज्ञा नहीं इनका था बम धमाकों में हाथ
sadhvi-pragaya-is-innocent

पूर्व अधिकारी का खुलासा साध्वी प्रज्ञा नहीं इनका था बम धमाकों में हाथ

Sadhvi Pragaya is innocent : आज हम आपके सामने मालेगाओ बम धमाके के बारे

में महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहें है जो शायद ही कभी बाहर आई हो | आप सभी को यह

पता है कि इस बम धमाके में आज देश की सांसद साध्वी प्रज्ञा का नाम सामने आया था

और उन्हें जेल में इसके लिए प्रताड़ित भी किया गया था | Sadhvi Pragaya is innocent 

लेकिन उनके ऊपर लगाये गये यह आरोप संदेह के घेरे में आते है | RVS Mani की एक पुस्तक इस

विषय पर साफ़ बताती है कि यह सारा मामला हिन्दू आतंकवाद को सच बताने के लिए किया गया था |

RVS Mani जी का इस पुस्तक में कहना है कि राज्य की पुलिस का कहना था कि बम

धमाके एक  मुस्लिम संगठन अहल-ए-हदीस का हाथ था | यह संगठन भारत में शरिया कानून

लेन के लिए कार्य कर रहा था | Sadhvi Pragaya is innocent 

Read This Also : बाइबल की यह कहानी बनी काले लोगों की गुलामी का आधार 

RVS Mani उस समय ग्रह मंत्रालय में कार्यरत थे | उनका कहना है कि महाराष्ट्र पुलिस द्वारा कुछ लोग गिरफ्तार किये गये थे और गिरफ्तार किये गये आतंकियों का कहना था कि वह Students Islamic Movement of India(SIMI) के सदस्य है और इस आतंकवादी संगठन पर भारत में प्रतिबन्ध लगा हुआ है |

आतंकियों ने यह माना था कि उन्होंने यह बम धमाका 2001-2002 में मालेगाओ में हुए हिन्दू मुस्लिम दंगो में मुस्लिमों के खिलाफ हुए ज़ुल्मों का बदला लेने के किये किया था | इस तरह हम देखतें है कि किस तरह से भारत में हिन्दुओं को बदनाम करने के लिए सारा खेल रचा गया था | Sadhvi Pragaya is innocent 

Source : Book : Hindu Terror , Writer : RVS Mani

 


आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

यह भी पढ़ें

these-historical-cases-are-still-pending

खुलासा : क्यों भारत सरकार नहीं करवाती है देश के इन नायकों की मृत्यु

these historical cases are still pending : भारत को आज़ादी दिलवाने वाले और किसी न …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved