Thursday , 22 October 2020
Home - समाचार - धर्मांतरण के खिलाफ बोलने पर सांसद को उनकी ही पार्टी मरवाना चाहती है
Raghuram Krishnan Threat Murder
Raghuram Krishnan Threat Murder

धर्मांतरण के खिलाफ बोलने पर सांसद को उनकी ही पार्टी मरवाना चाहती है

आंध्र प्रदेश : YSRCP के सांसद रघुराम कृष्णम राजू  को अपनी ही पार्टी से जान का खतरा है | इन्होने धर्मांतरण के खिलाफ अआज़ उठाई और इन्हें मरने कि धमकियाँ आने लगी | Raghuram Krishnan Threat Murder

  • आंध्र प्रदेश्में  जग्गन रेड्डी कि सरकार है और हमेशा इनकी सरकार पर धर्मांतरण कि आरोप लागत रहे हैं |
  • रघुराम कृष्णम राजू ने लोकसभाध्यक्ष ओम बिरला को एक याचिका देकर सुरक्षा की मांग कि है
  • उन्होंने कहा है “जीवन को खतरा है उनकी ही पार्टी कुछ विधायक उन्हें मरवाना चाहते हैं सुरक्षा दी जाए “

तिरुपति बाला जी मंदिर कि  सम्पति बेचनी का विरोध

आंध्सांर प्रदेश ने तिरुपति मंदिर  कि प्रॉपर्टी बेचने का निर्णय लिया था | उस निर्णय का विरोध इन्होने भरी सभा में किया था और इनकी बहुत तीखे स्वर में दुसरे विधायकों के बहस हो गई थी  Raghuram Krishnan Threat Murder

यह भी पड़िए : क्यूँ हो रही है तिरुपति मंदिर की सम्पति की नीलामी

स्यासत का सफ़र

वास्तव में  वह उद्योगपति  थे बाद में राम कृष्णम राजू भाजपा में शामिल हुए थे। इसके बाद चुनाव आते ही उन्होंने वाईएसआरसीपी (YSRCP) का दामन थाम लिया था। उससे पहले वो चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी में भी रहे थे। वाईएसआरसीपी पार्टी के टिकट पर ही वो सांसद भी चुने गए थे। Raghuram Krishnan Threat Murder

न्यूज़ चैनल में खुलासा

  • न्यूज़ चैनल में बताया  “यदि मिशनरी के लोग धर्मांतरण करवा रहे हैं, तो उसमें वो क्या कर सकते हैं ?
  •  हमारे राज्य में ईसाइयों का प्रतिशत 2.5% से कम है, लेकिन वास्तव में यह 25% से कम नहीं होगा।
  • रिजर्वेशन वर्ग वाले अगर अपना धर्म बदल लें तोह लाभ मिलना बंद हो जाता है लेकिन
  • यही कारण है कि लोग धर्मांतरण करते हैं, मगर अपना पंजीकरण नहीं करवाते।

Source : India Today

 


आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

यह भी पढ़ें

BJP VS AKALI DAL

जब मोदी जी ने हरसिमरत से मिलने से इंकार कर दिया था – 6 घंटे खड़ी रही थी बाहर

नई दिल्लीः हरसिमरत कौर बादल, जिन्होंने कृषि संबंधित 3 विधेयकोंं के विरोध में खाद्य प्रसंस्करण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved