Sikh migrants brought to india
Sikh migrants brought to india

इसीलिए जरुरी था CAA, 180 सिख परिवार शरण लेने भारत आए . . .

Migrant Sikhs come to India – अफगानिस्तान में जुल्मो सितम का शिकार हो रहे सिख परिवारों का एक जत्था दिल्ली पहुंचा है.
आपको बता दे की पाकिस्तान और अफगानिस्तान में सिख और हिन्दू परिवारों पर काफी अत्याचार हो रहा है .
वहा पर मौजूद अलपसंख्यक लोगो को हर रोज कटरपंथीओ के दवारा यातना दी जा रही है . Migrant Sikhs come to India

"<yoastmark

अब तक 450 सिख परिवार पहुंचे दिल्ली

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGMC) के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि
अफगानिस्तान (Afghanistan) से 180 सिख परिवारों का एक जत्था गुरुवार को दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचा.

मनजिंदर सिंह सिरसा ने एक बयान में कहा कि इस साल मार्च में अफगानिस्तान में एक गुरुद्वारे पर
हमले के बाद वहां से सिख और हिंदू परिवारों का ‘पलायन’ हुआ है.
वो डीएसजीएमसी की पहल पर भारत आ रहे हैं.Migrant Sikhs come to India

उन्होंने कहा, ‘अब तक 450 से अधिक परिवार राष्ट्रीय राजधानी में आ चुके हैं और दिल्ली सिख गुरुद्वारा
प्रबंधक कमेटी द्वारा गुरुद्वारों में उनके ठहरने की व्यवस्था की जा रही है.
परिवार अपने साथ गुरुग्रंथ साहिब भी लाए हैं.’

नए कानून CAA से है बहुत उमीदे Migrant Sikhs come to India

नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA – 2019) अल्पसंख्यकों (गैर-मुस्लिम) के लिए भारतीय नागरिकता देने का रास्ता खोलता है.
ये कानून सिर्फ पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश और अफगानिस्‍तान में रहने वाले शोषित लोगों को भारत की नागरिकता हासिल करने की राह आसान करता है.
भारत में CAA जैसे कानून के पास होने के बाद ही अफगानिस्तान में फंसे इन सिख परिवारों को अपने देश में शरण लेने की आस जगी.
ऐसे ही पीड़ितों के लिए मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून बनाया है. Migrant Sikhs come to India

यह भी पढ़े

अफगानिस्तान था हिन्दुराष्ट्र , प्राचीन भगवान शिव माँ उमा की मूर्ति मिली

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

जीत गई काशी: काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के लिए ज्ञानव्यापी मस्जिद ने दी जमीन…

काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) और ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Masjid) विवाद में एक बड़ी …

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved