मौर्य वंश का अंतिम शासक कौन था और पुष्‍यमित्र शुंग ने उसका क्यूँ वध किया था ?

यह बात सैनापति पुष्‍यमित्र शुंग को अच्‍छी नहीं लगी और उन्‍होंने राजा पर भड़कते हुए कहा कि यह सेना मेरे इशारे पर चलती है, राजा के नहीं और मेरी ही बात मानती है। इतना कहकर सेनापति पुष्‍यमित्र शुंग वहाँ से चले गए और पंजाब में जाकर यवनों को पकड़कर मौत के घाट उतार दिया और कुछ यवन जो बौद्ध धर्म स्‍वीकार कर घुसपैठ करने वाले थे उनको राजा के सामने लाकर खड़ा कर दिया और राजा से कहा कि महाराज ये रहे आपके अपराधी जो आपके राज्‍य में घुसपैठ कर रहे थे काट तो इनका गला, लेकिन राजा वृहदरथ तो बौद्ध धर्म के अनुयायी थे तो उन्‍होंने चिल्‍लाते हुए कहा कि तुम किसकी आज्ञा से इन लोगों को पकडकर यहाँ लाए हो । बेदखल हो जाओ में मेरे राज्‍य से । mauryan empire and pushyamitra shunga

Biography of Pushyamitra Shunga in Hindi

सैनापति पुष्‍यमित्र शुंग का प्रतिशोध

इस बेईजती को सैनापति पुष्‍यमित्र शुंग सहन नहीं कर पाए और अपनी सेना लेकर चले गए। कुछ दिन बाद जब राजा वृहदरथ और पुष्‍यमित्र शुंग का सामना हुआ तो गर्मा-गर्मी की बातों में राजा वृहदरथ ने पुष्‍यमित्र शुंग पर तलवार चला दी, जिससे गुस्‍सा होकर पुष्‍यमित्र ने राजा के सिर को धड़ से अलग कर दिया और इस प्रकार मौर्य वशं का अन्‍त हो गया ।

चंद्रगुप्त एवं ग्रीक कि राजकुमारी के प्रेम सम्बन्ध और जिस के विरुद्ध में चाणक्य क्यूँ थे ?

Source  – Wikipedia 

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

प्राचीन रोम में सनातन धर्म को पूजा जाता था ? आइये जानते है क्या समानता है

vedic rome or sanatan –   विद्वान लोग सनातन धर्म को भारत की विभिन्न संस्कृतियों एवं …

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved