Monday , 26 October 2020
Home - समाचार - ब्राह्मणो को बदनाम करने का पर्दाफाश – जिन्दा है ज्योति पासवान ( Fact Check )
Jyoti Paswan Murder Truth
Jyoti Paswan Murder Truth

ब्राह्मणो को बदनाम करने का पर्दाफाश – जिन्दा है ज्योति पासवान ( Fact Check )

Jyoti Paswan Murder Death : पिछले कुछ दिनों से ब्राह्मणों के खिलाफ जमकर सोशल मीडिया में जेहर उगला जा रहा है , इस बार निशाना ज्योति पासवान कि हत्या थी | लिबरल ग्रुप  , ब्राह्मण विरोधिओं ने पतोर में १३ वर्षीय बालिका कि हत्या पर सभी ब्राह्मण समाज को कटघरे में खड़ा कर दिया था |

मामला क्या है ?

‘साइकिल गर्ल ज्योति कुमारी की रेप के बाद हत्या कर दी गई, ज्योति को इंसाफ मिलना चाहिए’, सोशल मीडिया पर ऐसी कई पोस्ट वायरल हो रही है। सोशल मीडिया ट्वीटर पर #JusticeForJyoti ट्रेंड कर रहा है। इस हैशटैग के साथ साइकिल गर्ल ज्योति पासवान की मौत की खबर शेयर की जा रहीं, उनकी तस्वीरें शेयर की जा रही हैैं। Jyoti Paswan Murder Death

Jyoti Paswan Murder Death
Jyoti Paswan Murder Death

कौन है ज्योति पासवान ?

बिहार के दरभंगा की ज्योति पासवान उस समय सुर्खियों में आईं जब लॉकडाउन के दौरान वे अपने पिता को गुड़गांव से लेकर अपने घर लगभग 1200 किलोमीटर दरभंगा लेकर पहुंचती हैं।

इसके बाद से ज्योति को लोग साइकिल गर्ल के नाम से जानने लगे। देश से लेकर विदेश तक उनका नाम हो गया।

फिर चार जुलाई को अचानक सोशल मीडिया पर ज्योति पासवान की रेप कर बाद हत्या की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी।

दरभंगा की ज्योति कुमारी की संदिग्ध अवस्था में मौत की खबर सही है, लेकिन यह साइकिल गर्ल ज्योति पासवान नहीं हैं। गुरुवार दो जुलाई को दरभंगा के पतोर ओपी क्षेत्र में 13 वर्षीय ज्योति कुमारी का शव मिला। Jyoti Paswan Murder Death

मुस्लिम ने की सिख युवती की चाकू मारकर हत्या – Sikh girl Murdered by Muslim

खबर का सत्य

पहले जो खबरें आईं उसमें बताया गया कि ज्योति की रेप के बाद हत्या की गई है। जिस बगीचे में शव मिला वह सेवानिवृत्त फौजी अर्जुन मिश्रा का है। आरोप लगा कि फौजी की पत्नी ने शव को बगीचे में छिपा दिया था। इस आरोप में फौजी और उसकी पत्नी को गिरफ्तार भी किया गया जबकि तीसरे आरोपी की तलाश अभी भी जारी है।

दैनिक भासकर ने निकाला सत्य

दैनिक भास्कर दरभंगा एडिशन की खबर शुक्रवार को जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तब दरभंगा एसएसपी बाबू राम ने पत्रकारों को बताया कि ज्योति की मौत करंट लगने के बाद दम घुटने से हुई।

पुलिस ने बलात्कार के किसी मामले से इनकार किया। हालांकि यह भी कहा कि तीसरे आरोपी की तलाश जारी है।

पुलिस ने यह भी बताया कि प्रथम दृष्टया यही लग रहा कि ज्योति कुमारी की शव को छिपाने का प्रयास किया गया। उसकी मौत करंट लगने के कारण हुई।

आरोपी अर्जुन मिश्रा की पत्नी ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा है कि बगीचे में सुअरों का आतंक था, जिस कारण उसने करंट वाले बिजली के तार लगा रखे थे।

जिला और एक ही नाम के चक्कर पर लोगों को लग रहा कि साइकिल गर्ल ज्योति पासवान की मौत हो गयी।

Jyoti Paswan Murder Death
Jyoti Paswan Murder Death

ज्योति पासवान स्वयम सामने आई

गांव कनेक्शन ने पुष्टि के लिए ज्योति पासवान से बात की। ज्योति ने फोन पर बताया, “मेरे पास भी कई लोगों के फोन आ चुके हैं, लेकिन मैं ठीक हूँ। अभी साइकिल ट्रायल की तैयारी कर रही हूं। मैं तो ज्योति कुमारी को जानती भी नहीं।”

ज्योति पासवान ने दो दिन पहले की अपनी यह फोटो गांव कनेक्शन को भेजी है। वह अपने ट्रायल की तैयारी में व्यस्त हैं।’

Jyoti Paswan Murder Death
Jyoti Paswan Murder Death

Source :  Times of India 

 


आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

यह भी पढ़ें

Attack on Shiva Temple

Attack on Shiva Temple – आंध्र प्रदेश: मंदिरों को निशाना बनाने की घटना बढ़ी, अब शिव मंदिर पर हमला, नंदी की प्रतिमा को तोडा

Attack on Shiva Temple – आंध्र प्रदेश में मंदिरों पर हमले का सिलसिला थम नहीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved