Hindu Population in Bangladesh
Hindu Population in Bangladesh

बांग्लादेश में गिरती हिन्दुओं कि जनसँख्या 25% से 9% प्रतिशत : मानवाधिकार

Hindu Population in Bangladesh : बांग्लादेश में बहुत ही तेजी से हिन्दू जनसंख्या कम हो रहे हैं  इसको ध्यान में रखते हुए  मानवाधिकार कार्यकर्ता व प्रोफेसर रिचर्ड बेंकिन ने चिंता जाहिर की है। बेंकिन ने कहा है कि बांग्लादेश में हिंदुओं की संख्या लगातार कम हो रही है। देश में 1974 के वक्त हिंदुओं की संख्या कुल आबादी में जहां 25% थी, वहीं 2020 में यह घटकर कुल आबादी 9% रह गई है। उन्होंने ये बातें केरल के कोझिकोड़ में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेते हुए कही।

हिंदू आबादी घटकर 9.5 प्रतिशत हो गया
आपको बताते चलें कि वर्तमान में बांग्लादेश की कुल आबादी 15 करोड़ है जिसमें से 90 प्रतिशत मुसलमान हैं। हिंदू आबादी घटकर 9.5 प्रतिशत के करीब रह गई है। बेंकिन ने एक कार्यक्रम में बताया “हसीना और  जिया कि सरकारें हिन्दुओं पे अत्याचार रोक नहीं प् रही है , हिन्दू नेताओं को घर में घुसकर मरना , हिन्दू महिलाओं का आप्हरण , बच्चों को कतल आम बात हो गई है ”

यह भी पड़िए : असम में हिन्दू कि 5 मुसलमानों ने मिलकर निर्मम हत्या कर दी

उन्होंने बताया कि आये  दिनों हिन्दू बस्तिओं को जला दिया जाता है , हिन्दुओं का शोषण किया जा रहा है |वर्तमान शेख हसीना की सरकार कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है। इस दौरान उन्होंने आगे कहा कि बांग्लादेश में पूरा विचार हिन्दू महिलाओं को खत्म करने का है ताकि वह हिंदू बच्चे को जन्म न दे सके। हिन्दुओं कि पीड़ी समाप्त करने के लिए वहां के खुच इसल्मिक संगठन दपूर्ण जोर लगा रहे हैं | Hindu Population in Bangladesh

YearPercentage (%)Notes
190133Before partition
191131.5
192130.6
193129.4
194128
195122.05During Pakistan period
196118.5
197413.5After independence of Bangladesh
198112.13
199110.51
20019.2
20118.96

सोर्स :  “Projected Population Change in Countries With Largest Hindu Populations in 2010”. pewforum.org. Retrieved 16 August2016.

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

yashpal betray pandit azad

पं चंद्रशेखर आज़ाद का मुख्बीर , जो आजाद भारत में पदम् विभूषण से नवाजा गया

चंद्रशेखर आज़ाद बहुत चतुर-चालाक थे। वेश बदलने में वो इतने माहिर थे कि अंग्रेजों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved