Monday , 26 October 2020
Home - समाचार - Cross removed from govt land – कर्नाटक: HC के आदेश के बाद हटाया गया सरकारी भूमि पर स्थापित अवैध क्रिश्चियन क्रॉस
Cross built on govt land
Cross built on govt land

Cross removed from govt land – कर्नाटक: HC के आदेश के बाद हटाया गया सरकारी भूमि पर स्थापित अवैध क्रिश्चियन क्रॉस

Cross removed from govt land – अभी कुछ वर्षो में सामने आया है की भारत में
अवैध कब्जे बहुत बढ़ रहे है और देश विरोधी ताकते इनका अवैध कब्ज़ा किये हुए स्थान का उपयोग
धर्मांतरण जैसे कार्यो के लिए कर रहे है . अभी तजा मामला कर्नाटक का है ।Cross removed from govt land

Cross built on govt land
Cross built on govt land

कर्नाटक के चिक्काबल्लापुर में सुसाई पलिया हिल पर मौजूद एक अवैध क्रिश्चियन क्रॉस और यीशु मसीह
की एक मूर्ति को बुधवार (सितम्बर 23, 2020) को जिला प्रशासन ने हटा दिया है। जनहित याचिका
(पीआईएल) के जवाब में कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेश के बाद यह कार्रवाई की गई।

Cross removed from govt land

सरकारी भूमि के अतिक्रमण के लिए बड़े आकार के क्रॉस और स्टैचू को सरकारी स्वामित्व वाली चरागाह
भूमि, जिसे गोमला भी कहा जाता है, पर अवैध रूप से स्थापित किया गया था। अवैध कब्जे को हटाने की
इस कार्रवाई को सहायक आयुक्त रघुनंदन, तहसीलदार तुलसी ने पुलिस अधीक्षक (चिक्काबल्लापुर)
मिथुन कुमार की निगरानी में किया गया।Cross removed from govt land

 

प्रशासनिक कार्रवाई की पुष्टिकरते हुए बताया कि कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेशों पर कार्रवाई की गई
थी, क्योंकि यह पाया गया था कि अधिकारियों की पूर्व स्वीकृति के बिना, सरकारी भूमि पर मूर्ती और क्रॉस
का निर्माण किया गया था। Cross removed from govt land

सांसद जो भाषण में मंत्र उचारण करते थे

सांसद जो भाषण में मंत्र उचारण करते थे

 


आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

यह भी पढ़ें

Attack on Shiva Temple

Attack on Shiva Temple – आंध्र प्रदेश: मंदिरों को निशाना बनाने की घटना बढ़ी, अब शिव मंदिर पर हमला, नंदी की प्रतिमा को तोडा

Attack on Shiva Temple – आंध्र प्रदेश में मंदिरों पर हमले का सिलसिला थम नहीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved