Congress Demolish Cottage industries
Congress Demolish Cottage industries

काँग्रेस ने चीन के इशारे पर इस प्रकार बर्बाद किये थे भारतीय कुटीर उद्योग

Congress Demolish Cottage industries : अभी कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का प्रेस कॉन्फ्रेंस देखा जिसमें उन्होंने कई दस्तावेज दिखाते हुए जो खुलासा किया वह बेहद चौंकाने वाला है।

2006 में मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे और कमलनाथ वाणिज्य मंत्री थे। तब कमलनाथ ने चीन जाकर एक ऐसा समझौता किया जिसने भारत के सभी गृह उद्योग को बर्बाद कर दिया।

दरअसल चीन सरकार ने जब राजीव गांधी फाउंडेशन को एक करोड़ रुपया दिया उसके 10 दिन के बाद ही कमलनाथ चाइना गए।

भारत में बिहार, यूपी, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, मेघालय यानी बहुत से राज्य ऐसे थे जहां के किसान बांस की खेती करके अपना गुजारा करते थे। भारत के बांस बहुत जगह इस्तेमाल होते थे, न सिर्फ अगरबत्ती बनाने में बल्कि बांस से दूसरी तमाम चीजें बनाई जाती थी।

क्यूँ माउंट बैटन को नेहरु ने दिए थे ६४००० डॉलर

 

उधर चीन भी बांस का बहुत ज्यादा उत्पादन करने लगा। तब उसने कमलनाथ पर दबाव डालकर बांस के आयात पर लगने वाले ड्यूटी को खत्म करवा दिया |

कांग्रेस का षड्यंत्र

भारत मे चीन सरकार के दबाव में कांग्रेस सरकार ने बांस को पेड़ की श्रेणी में ला दिया, अर्थात अगर किसी किसान को अपना बांस काटना है तो उसे वन विभाग से और दूसरे तमाम सरकारी विभाग से जरूरी अनुमति लेनी पड़ेगी।

Congress Demolish Cottage industries
Congress Demolish Cottage industries

कांग्रेस सरकार के इस आत्मघाती कदम ने लाखों किसानों को बर्बाद कर दिया और भारत में बांस उगा कर गुजारा करने वाले किसान और तमाम कुटीर उद्योग नष्ट हो गए।

उसके बाद अगरबत्ती बनाने वाले खिलौने बनाने वाले सब चीन के बांस पर निर्भर हो गए। Congress Demolish Cottage industries

मोदी सरकार ने बाद में संसद ने यह बयान दिया कि हम बांस को फिर से फसल और घास की श्रेणी में रखेंगे। किसान जब चाहे तब बांस को काट सकता है उसे बांस को काटने के लिए या बांस को पूरे भारत में कहीं भी परिवहन करने के लिए वन विभाग की कोई सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं होगी। Congress Demolish Cottage industries

 

इतना ही नहीं मोदी सरकार ने चीन से आने वाले बांस पर एंटी डंपिंग ड्यूटी भी लगा दी। और इस तरह वापस बांस उगाने वाले किसानों की हालत सुधरने लगी। Congress Demolish Cottage industries

Source : The Hindu Newspaper

 

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

yashpal betray pandit azad

पं चंद्रशेखर आज़ाद का मुख्बीर , जो आजाद भारत में पदम् विभूषण से नवाजा गया

चंद्रशेखर आज़ाद बहुत चतुर-चालाक थे। वेश बदलने में वो इतने माहिर थे कि अंग्रेजों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved