BoycottNetflix
BoycottNetflix

Netflix ने फिर भगवान कृष्णा का अपमान कर हिन्दू धर्म पर घात किया है

BoycottNetflix : नेटफ्लिक्स एक बार फिर हिन्दू धर्म पर घात लगाया है । इस बार नेटफ्लिक्स की फ़िल्म Krishna And His Leela को लेकर लोगों में भारी रोष है। इस बार इन्भहोने गवान श्री कृष्ण का मज़ाक उड़ाया गया है। उनके नाम वाले एक किरदार को लड्किबाज़  दिखाया गया है। इसीलिए ट्विटर पर #BoycottNetflix ट्रेंड हो रहा है।

इस फ़िल्म के निर्माताओं में बाहुबली के भल्लालदेव यानि राणा दग्गूबटी भी शामिल हैं, जिसके कारन  राणा भी लोगों के गुस्से के निशाने पर हैं।

कृष्ण एंड हिज़ लीला एक तेलुगु फ़िल्म है, जिसे रविकांत पेरेपु ने डायरेक्ट किया है। फ़िल्म में सिद्धू जोनलगड्डा और श्रद्धा साईंनाथ मुख्य भूमिकाओं में हैं।

क्यूँ हो रहा है विवाद

यह कृष्ण नाम के एक युवक के उलझे हुए प्रेम और प्रेम में उलझन की  कहानी है। फ़िल्म में दो फीमेल किरदारों के नाम सत्यभामा और राधा हैं। इस बात को लेकर नेटिज़ंस नाराज़ हैं। फ़िल्म 25 जून को नेटफ्लिक्स पर स्ट्रीम की गयी है।

 यह भी पड़िए : इन 14 कारणों के कारण हो रहा है पतालोक वेब सीरीज का विरोध ।

एक यूज़र ने लिखा- क्या आप लोग जानबूझकर हमारे महान हिंदू भगवान कृष्ण को अपमान कर रहे हैं, जिन्होंने मानवता को भगवदगीता दी। राणा दग्गूबटी ने आपने ऐसा क्यों किया। आपने कृष्ण को एक वुमेनाइज़र के रूप में कैसे दिखा दिया। एक अन्य यूज़र ने कृष्ण किरदार को इस तरह दिखाये जाने के साथ राधा के नाम पर आपत्ति जताई है। उन्होंने इसे एक पूरे सुमदाय के ख़िलाफ़ प्रोपेगंडा बताया। BoycottNetflix

Netflix  का विरोध क्यूँ होना चाहिय |

बता दें कि नेटफ्लिक्स पर दिखाये जाने वाली फ़िल्में  हमेशा हिन्दू धर्म पर घात करती है न ।

इससे पहले सेक्रेड गेम्स और लैला को लेकर भी ख़ूब विवाद हुआ था।

इन दिनों सीरीज़ के कुछ दृश्यों पर एतराज़ जताया गया था।

इन्हें हिन्दू  लोगो की धार्मिकआस्थाओं से खिलवाड़ बताया गया था।

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

जीत गई काशी: काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के लिए ज्ञानव्यापी मस्जिद ने दी जमीन…

काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) और ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Masjid) विवाद में एक बड़ी …

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved