Friday , 30 October 2020
Home - समाचार - जब मोदी जी ने हरसिमरत से मिलने से इंकार कर दिया था – 6 घंटे खड़ी रही थी बाहर
BJP VS AKALI DAL
BJP VS AKALI DAL

जब मोदी जी ने हरसिमरत से मिलने से इंकार कर दिया था – 6 घंटे खड़ी रही थी बाहर

नई दिल्लीः हरसिमरत कौर बादल, जिन्होंने कृषि संबंधित 3 विधेयकोंं के विरोध में खाद्य प्रसंस्करण मंत्री का पद छोड़ दिया था | उन्होंने लोकसभा में तीनों कृषि विधेयकों को रोकने के लिए मोदी को मनाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन वह उन्हें मनाने में नाकाम रहीं।

  • इसके बाद कोई विकल्प नहीं होने पर प्रधानमंत्री से मुलाकात का समय मांगा BJP VS AKALI DAL
  • लेकिन पी.एम. के सहयोगी ने उन्हें विनम्रता से गृह मंत्री या पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा से संपर्क करने के लिए कहा।
  • उस समय अमित शाह एम्स से स्वस्थ होकर लौटने के बाद उपलब्ध नहीं थे।

JP nadda

नड्डा के दरवाजे पर दस्तक

  • एसे में बिना किसी विकल्प के, उन्होंने नड्डा के दरवाजे पर दस्तक दी।
  • उन्होंने नड्डा से कहा कि अगर ये विधेयक पारित हो जाते हैं,
  • तो उनके पास सरकार छोड़ने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा और शायद एन.डी.ए. भी।
  • वह चाहती थीं कि विधेयकोंं को ‘संसद की चयन समिति’ को अंतिम प्रयास के रूप में भेजा जाए।
  • हमेशा मुस्कराने वाले नड्डा के हाथ में कठिन काम था क्योंकि अकाली 5 दशकों से भाजपा के सबसे पुराने सहयोगी थे।
  • इसके बाद नड्डा और सरकार के बीच क्या हुआ, इसकी जानकारी नहीं है
  • हरसिमरत कौर को बताया गया कि अगर उन्होंने मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा दे दिया
  • तो बिना देरी किए इसे स्वीकार कर लिया जाएगा। BJP VS AKALI DAL

हरसिमरत बादल ने दिया मोदी कैबिनेट से अस्तिफा – टूट सकता है पंजाब में गठबंधन

प्रधानमंत्री अनुमति मांगी

  • जब पिछले शुक्रवार को लोकसभा में विधेयकोंं को पारित कर दिया गया
  • तो उन्होंने प्रधानमंत्री से फिर से तत्काल मुलाकात की अनुमति मांगी
  • ताकिवह अपना इस्तीफा दे सकें। पी.एम. अपने संसद भवन के चैम्बर में बैठे थे
  • वह कमरे में मिलने हेतु चली गईं। उन्होंने पी.एम. के सहयोगी से कहा कि उनके लिए पी.एम. से मिलना जरूरी है
  • लेकिन पी.एम. फिर से कुछ जरूरी काम करने में व्यस्त थे BJP VS AKALI DAL
  • कैबिनेट मंत्री इंतजार कर रही थीं लेकिन उनके पास समय नहीं था।
  • निराश हरसिमरत कौर ने अपने इस्तीफे का पत्र सीलबंद कवर में मोदी के कार्यालय में एक जूनियर सहयोगी को सौंप दिया।
  • बाकी सब इतिहास है। मोदी ने बिना पलक झपकाए इसे स्वीकार कर लिया

22 साल पुराना भाजपा और अकाली दल का गठबंधन पंजाब में अतः टुटा

Source : Punjab Kesari

 


आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

यह भी पढ़ें

Will sidhu join BJP

क्या सिधु दुबारा पंजाब बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं ?

Will Sidhu join BJP ? : कांग्रेस लीडर नवजोत सिंह सिद्धू के फिर से भाजपा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved