Care archaeological monuments
Care archaeological monuments

Archaeological monuments india – मोदी जी लाये देश के पुरातन धरोहरों को बचाने के लिए कानून ।

Archaeological monuments india –  देश के पुरातात्विक स्मारकों के संरक्षण और पंजीकरण की प्रक्रिया को सुविधाजनक व मजबूत बनाने के
लिए भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने बड़ा कदम उठाया है।Archaeological monuments india
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर संस्कृति मंत्रालय ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के सात नए सर्किलों की घोषणा की है।
यह सर्किल मध्य प्रदेश के जबलपुर में, तमिलनाडु के त्रिची में, उत्तर प्रदेश के मेरठ और झांसी में, कर्नाटक के हम्पी में,
पश्चिम बंगाल के रायगंज में और गुजरात के राजकोट में प्राचीन स्थलों के विकास एवं रखरखाव के लिए बनाए गए हैं।
संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रह्लाद पटेल ने ट्वीट करके इस संबंध में जानकारी दी है।
मंत्री प्रह्लाद पटेल ने बताया है कि, ‘संस्कृति मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर पुरातात्विक
स्मारकों के संरक्षण और पंजीकरण की प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिए यह कदम उठाया है।“

Archaeological monuments india

Archaeological monuments india
Archaeological monuments india

कैसे हुई थी भारत में धर्मपरिवर्तन की शुरुआत

यही नहीं मंत्री प्रह्लाद पटेल ने नए क्षेत्रों का विवरण देते हुए वहां नया सर्किल बनाने की आवश्यकता के बारे में भी बताया।
उनके द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश में राजधानी भोपाल के साथ अब जबलपुर में नया सर्किल बनाया गया है।
इसमें जबलपुर, रीवा, शहडोल और सागर संभागों के स्मारकों को शामिल किया जाएगा।  Care archaeological monuments
वहीँ तमिलनाडु में चोल राजाओं के हजारों मंदिर और शानदार यादें हैं।
इसलिए उन्हें संरक्षित करने के लिए त्रिची में नया सर्किल बनाया गया है।Archaeological monuments india

 

 

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

जीत गई काशी: काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के लिए ज्ञानव्यापी मस्जिद ने दी जमीन…

काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) और ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Masjid) विवाद में एक बड़ी …

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved