400 years old Rama statue beheaded

भगवान श्री राम की 400 साल पुरानी मूर्ति तोड़ी, धड़ से अलग मिला प्रतिमा का सिर

400 years old Rama statue beheaded : एक ओर आंध प्रदेश की जगन मोहन सरकार पर मुस्लिमों और ईसाइयों के तुष्टिकरण के आरोप लग रहे हैं, वहीं दूसरी ओर राज्य में लगातार हिंदू मंदिरों पर हमले हो रहे हैं। ताजा घटना में राज्य के विजयनगरम जिले के नेल्लीमरला मंडल में एक पहाड़ी पर स्थित मंदिर में अज्ञात उपद्रवियों ने भगवान राम की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया।

400 years old Rama statue  beheaded

Related Article : असम के अदबुध हिन्दू मंदिर जिनके इतिहास जानने योग्य हैं

  • यह प्रतिमा रामतीर्थम गाँव के पास पहाड़ी की चोटी पर स्थित बोडिकोंडा कोदंडाराम मंदिर में स्थापित थी।
  •  उपद्रवी ताला तोड़ मंदिर के गर्भगृह में घुसे और स्वामी कोदंडारामुडु की प्रतिमा का सिर काटकर अलग कर दिया।
  • बताया जाता है कि यह प्रतिमा 400 वर्ष प्राचीन थी।
  • इसके साथ ही मंदिर में माता सीता और लक्ष्मण की भी प्रतिमाएं विराजमान हैं।
  • मुख्य मंदिर पहाड़ी की तलहटी में है।
  • जिस मंदिर में प्रतिमा क्षतिग्रस्त की गई वह पहाड़ी की चोटी पर है।
  • एक ही पुजारी दोनों मंदिरों में नियमित अनुष्ठान करते हैं।
  • यह घटना उस समय प्रकाश में आई जब पुजारी मंगलवार (दिसंबर 29, 2020) सुबह नियमित अनुष्ठान करने के लिए मंदिर पहुँचे।

केसे हुई घटना ? 400 years old Rama statue beheaded

  • मंगलवार की सुबह, पुजारियों को रामतीर्थम में बोडिकोंडा पहाड़ी पर प्राचीन सीता लक्ष्मण कोदंडाराम मंदिर के दरवाजे खुले मिले
  • गर्भगृह में भगवान राम की प्रतिमा का सिर धड़ से अलग दिखा।
    मंदिर के कर्मचारियों ने तत्काल इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी।
  • बुधवार को क्षतिग्रस्त किए गए  हिस्से को पास के तालाब में विसर्जित कर दिया गया। 400 years old Rama statue beheaded

भगवान जो 40 वर्षों में एक बार देते है दर्शन

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

इसराइल व हमास के बीच तेज हुई लड़ाई ने 2014 के गाजा युद्ध की याद दिलाई

israel and hamas war  गाजा से आते रॉकेटों और इसराइल के हवाई हमलों ने बुधवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved