sadhus killed in bulandhshehar
sadhus killed in bulandhshehar

पालघर , होशियारपुर के बाद उत्तरप्रदेश बुलंदशहर में 2 साधुओं की हत्या ।

महाराष्ट्र ,पंजाब में साधुओं के हत्या का मामला अभी शांत नहीं हुआ था | उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो साधुओं की धारदार हथियारों से काटकर नृशंस हत्या कर दी गई हैं । आज सुबह शर्धालू मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले। सोमवार की देर रात मंदिर परिसर में ही दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से प्रहार कर हत्या कर दी गई। साधू गाँव में पीछे १० सालो से गाँव में रह रहे थे | साधुओं की हत्या से ग्रामीणों में काफी रोष है। आरोपी हथियार पुलिस ने पकड़ लिया है |

https://secureservercdn.net/166.62.107.20/s9l.9a1.myftpupload.com/wp-content/uploads/2020/04/1588053818946.mp4?time=1588054653

साधुओं कि पहचान जगनदास (55 वर्ष) और सेवादास (35 वर्ष) से हुई है थे। दोनों साधु मंदिर में रहकर पूजा-अर्चना में करते रहते थे।

ग्रामीणों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके तुरंत बाद एसएसपी संतोष कुमार सिंह, सीओ अनूपशहर अतुल चौबे, कोतवाल मिथिलेश उपाध्याय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि इस मामले में गांव के ही एक युवक राजू को नशे की हालत में पुलिस ने घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर दूसरे गांव से अर्द्धनग्न अवस्था में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। बताया गया है कि 2 दिन पूर्व आरोपी युवक ने साधुओं का चिमटा गायब कर दिया था, जिसको लेकर साधुओं ने नाराजगी जताई थी। इसी बात से क्षुब्ध होकर उक्त युवक के द्वारा रात्रि में दोनों साधुओं की हत्या किए जाने की आशंका है। पुलिस मामले की गहराई से छानबीन कर रही है।

यह भी पढ़ेंबुलंदशहर में साधुओं की हत्या पर सीएम योगी आदित्यनाथ सख्त, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश

वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को संज्ञान में लेते हुए डीएम, एसएसपी व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर इस वारदात के संबंध में विस्तृत आख्या देने व दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने निर्देश दिए हैं।

आशा है , आप के लिए हमारे लेख ज्ञानवर्धक होंगे , हमारी कलम की ताकत को बल देने के लिए ! कृपया सहयोग करें

Quick Payment Link

यह भी पड़िए

yashpal betray pandit azad

पं चंद्रशेखर आज़ाद का मुख्बीर , जो आजाद भारत में पदम् विभूषण से नवाजा गया

चंद्रशेखर आज़ाद बहुत चतुर-चालाक थे। वेश बदलने में वो इतने माहिर थे कि अंग्रेजों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copyright © 2020 Saffron Tigers All Rights Reserved